August 13, 2020

PM Modi Speech: PM मोदी का देश के नाम 17 म‍िनट 39 सेकेंड का संबोधन, कहीं ये बातें

  • प्रधानमंत्री मोदी ने देश को किया संबोधित
  • पीएम मोदी ने कोरोना पर जताई चिंता
  • कोरोना काल में छठी बार किया संबोधित

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना काल में आज (मंगलवार) छठी बार देश को संबोधित किया. पीएम मोदी ने कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंता जाहिर करते हुए कहा कि अनलॉक-1 होने के बाद से लापरवाही बढ़ती जा रही है. जबकि कोरोना से बचने के लिए अब हमें ज्‍यादा सतर्क रहने की जरूरत है.

पीएम मोदी ने कहा कि कोरोना से होने वाली मृत्यु दर को देखें तो दुनिया के अनेक देशों की तुलना में भारत संभली हुई स्थिति में है. वहीं गरीबों और जरूरतमंदों के लिए बड़ा ऐलान करते हुए पीएम मोदी ने कहा कि मुफ्त अनाज देने की योजना अब अगले पांच महीने तक जारी रहेगी.

सुनें, देश के संबोधन में क्या बोले पीएम मोदी….

PM मोदी के संबोधन की बड़ी बातें….

>PM मोदी ने कहा कि अब पूरे भारत के लिए एक राशन-कार्ड की व्यवस्था भी हो रही है, यानी एक राष्ट्र-एक राशन कार्ड. प्रधानमंत्री ने कहा कि इसका सबसे बड़ा लाभ उन गरीब साथियों को मिलेगा, जो रोज़गार या दूसरी आवश्यकताओं के लिए अपना गांव छोड़कर कहीं और जाते हैं.

> प्रधानमंत्री ने कहा कि सरकार द्वारा इन पांच महीनों के लिए 80 करोड़ से ज्यादा भाई-बहनों को 5 किलो गेहूं या 5 किलो चावल मुफ्त दिया जाएगा. साथ ही हर परिवार को हर महीने 1 किलो चना भी मुफ्त दिया जाएगा. पीएम मोदी ने कहा कि इस योजना के विस्तार में 90 हजार करोड़ रुपये से अधिक खर्च होंगे.

> पीएम मोदी ने कहा कि प्रधानमंत्री गरीब कल्याण अन्न योजना का विस्तार अब दीवाली और छठ पूजा तक यानी नवंबर महीने के आखिर तक कर दिया जाए.

>प्रधानमंत्री मोदी ने कहा कि बीते तीन महीनों में 20 करोड़ गरीब परिवारों के जनधन खातों में सीधे 31 हजार करोड़ रुपये जमा करवाए गए हैं. इस दौरान 9 करोड़ से अधिक किसानों के बैंक खातों में 18 हजार करोड़ रुपये जमा हुए हैं.

> प्रधानमंत्री मोदी ने देश की जनता से सुरक्षा नियमों का पालन करने की अपील की. पीएम मोदी ने कहा कि आप सभी स्वस्थ रहिए, दो गज की दूरी का पालन करते रहिए, गमछा, फेस कवर, मास्क ये हमेशा उपयोग कीजिए.

> कोरोना के बढ़ते मामलों पर चिंता जताते हुए पीएम ने कहा कि जो लोग नियमों का पालन नहीं कर रहे हैं उन्हें रोकना होगा और समझाना होगा.

प्रधानमंत्री मोदी बोले, दिवाली-छठ तक 80 करोड़ लोगों को मिलेगा मुफ्त अनाज

> पीएम मोदी ने कहा कि अगर कोरोना से होने वाली मृत्यु दर को देखें तो दुनिया के अनेक देशों की तुलना में भारत संभली हुई स्थिति में है. समय पर किए गए लॉकडाउन और अन्य फैसलों ने भारत में लाखों लोगों का जीवन बचाया है. लेकिन जब से देश में अनलॉक वन हुआ तब से लापरवाही कुछ बढ़ती जा रही है.

> पीएम मोदी ने कहा कि जब से अनलॉक शुरू हुआ है, लोगों में लापरवाही बढ़ गई है. पहले हम बहुत सतर्क थे लेकिन जब ज्यादा सतर्कता की जरूरत है तो लापरवाही बढ़ना चिंता का कारण है.

> PM मोदी ने कहा कि कोरोना के खिलाफ लड़ते-लड़ते अब हम अनलॉक 2 में प्रवेश कर रहे हैं. हम उस मौसम में भी प्रवेश कर रहे हैं जिसमें सर्दी, जुकाम, बुखार होता है. ये मामले बढ़ जाते हैं. ऐसे में आप सभी देशवासियों से प्रार्थना है कि अपना ध्यान रखें.

पीएम मोदी बोले- गांव का प्रधान हो या देश का, कोई नियमों से ऊपर नहीं

बता दें कि चीन की दगाबाजी पर प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को अपने मन की बात में राय रख चुके हैं. पीएम मोदी ने साफ कर दिया कि भारत दोस्ती निभाना भी जानता है तो आंख में आंख डालकर जवाब देना भी जानता है. वहीं, कोरोना काल में इससे पहले पीएम मोदी अब तक 5 बार देश को संबोधित कर चुके हैं. पीएम मोदी का पहला संबोधन 19 मार्च को हुआ था, जब जनका कर्फ्यू का ऐलान हुआ. उसके बाद 24 मार्च को पीएम ने पहले लॉकडाउन की घोषणा की. 3 अप्रैल को कोरोना का अंधकार भगाने के लिए पीएम मोदी ने दीप जलाने की अपील की. इसके बाद लॉकडाउन 2 और 4 का ऐलान किया.

गौरतलब है कि प्रधानमंत्री के 30 जून को देश के नाम संबोधन से ठीक एक दिन पहले यानी सोमवार को भारत सरकार ने चीन के 59 ऐप्स पर बैन लगा दिया है.

आजतक का लाइव टीवी देखने के लिए यहां क्लिक करें….

प्रधानमंत्री मोदी के संबोधन और कोरोना से जुड़ी कई खबरें आजतक की वेबसाइट aajtak.in पर पढ़ सकते हैं. आजतक वेबसाइट पर देश-दुनिया से जुड़ी तमाम खबरें पढ़ने के लिए यहां क्लिक करें. यू-ट्यूब पर आजतक देखने के लिए यहां क्लिक करें.

कोरोना काल में छठी बार देश को संबोधन, जानें अब तक क्या ऐलान किए

कोरोना के खिलाफ जंग लंबी है. प्रधानमंत्री खुद बता चुके हैं कि अब तक दो गज की दूरी और मास्क या फेसकवर ही कोरोना संक्रमण से बचने का तरीका है. फिर 1 जुलाई से अनलॉक-2 भी लागू हो रहा है. ऐसे में सबकी नज़र प्रधानमंत्री के देश के नाम संबोधन और जनता से एक बार फिर मुखातिब होने पर टिकी है. माना जा रहा है कि प्रधानमंत्री मोदी अनलॉक 2.0 और देश के मौजूदा हालात पर अपने विचार रखेंगे. चीन से सीमा पर चल रहे तनाव के बीच प्रधानमंत्री मोदी के इस संबोधन को लेकर लोगों में और उत्सुकता है.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *