July 7, 2020

Covid-19: स्वर्गवासी पिता की राह पर चले बच्चे, गुल्लक फोड़कर दान किये 9200 रुपये

13 साल की श्रेया ने बताया कि उनके पिताजी जरूरत के वक्त पर अपनी क्षमता के मुताबिक लोगों की मदद किया करता थे. अभी पूरा देश कोरोना वायरस (Coronavirus) के चलते संकट में है. इसलिए उनलोगों ने भी गरीबों की मदद करने की कोशिश की है.

पलामू. कोरोना महामारी (Corona Pandemic) के इस दौर में जहां समाज के हर वर्ग के लोग गरीबों की मदद के लिए आगे आ रहे हैं, वहीं चार मासूम बच्चों ने भी अपने स्वर्गवासी पिता की आत्मा की शांति के लिए गुल्लक (Piggy Bank) तोड़कर दान दिये. मेदिनीनगर के बाबा रामनगर मोहल्ले के रहने वाले श्रेया, भूमि, अनु और रुद्र ने अपने स्वर्गीय पिता धीरज कुमार सिंह के जन्मदिन के मौके पर कोरोना की जंग में योगदान किया. इन बच्चों ने एक संस्था को 92 सौ रुपये दान किये, ताकि गरीबों व असहाय लोगों को मदद मिल सके. यह संस्था इस लॉकडाउन में गरीबों को खाना दे रही है. साथ ही आवारा जानवरों के लिए भी चारे का प्रबंध कर रही है.पिता के कदम पर चले बच्चे
13 साल की श्रेया ने बताया कि उनके पिताजी जरूरत के वक्त पर अपनी क्षमता के मुताबिक लोगों की मदद किया करता थे. अभी पूरा देश कोरोना वायरस के चलते संकट में है. इसलिए उनलोगों ने भी अपने पिता की तरह यथासंभव गरीबों की मदद करने की कोशिश की है. संस्था की सदस्य सलोनी सिंह का कहना है कि इन बच्चों का ये कदम बहुत ही सराहनीय है. इनसे लोगों को प्रेरणा लेनी चाहिए. इनके इस कार्य से स्वर्गवासी पिता के आत्मा को जरूर शांति मिलेगी.सड़क हादसे में हुई पिता की मौत 
इन चारों बच्चों के पिता धीरज कुमार सिंह छतरपुर प्रखंड के खजुरी पंचायत के मुखिया रह चुके थे. बाद में बीजेपी के प्रखंड अध्यक्ष बने. लेकिन इसी साल जनवरी में सड़क हादसे में उनकी मृत्यु हो गई. बीते शनिवार को उनका जन्मदिन था. इसी मौके पर उनके चार बच्चों ने गुल्लक फोड़कर 92 सौ रुपये कोरोना की लड़ाई में दान दिये. बच्चों की माने तो वे पिछले दो साल से इन पैसों को जमा कर रहे थे.रिपोर्ट- नीलकमलये भी पढ़ें- मिलिए ‘कोरोना यमराज’ से, जागरूकता फैलाने के लिए हजारीबाग पुलिस ने की अनोखी पहल
 
 

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *